Shiv Chalisa in Hindi

thumbnail

शिव चालीसा

शिव चालीसा 2020 – भगवान भोलेनाथ जो की महादेव, शंकर भगवान, शिव आदि अनेकों नामों से जाने जाते है। जिनको प्रसन्न करके आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए भक्त शिव मूल मंत्र, महामृत्युंज मंत्र, शिव आरती आदि का पाठ करते है। ऐसा माना जाता है भोलेनाथ की शंकर चालीसा का पाठ करने से भी शिवजी जल्दी प्रसन्न होते है। शिव चालीसा का पाठ (Shiv Chalisa in Hindi) नियमित करने वाले भक्तो पर भगवान शिव की कृपा हमेशा बनी रहती है।

शिव चालीसा हिंदी में (Shiv Chalisa Lyrics in Hindi)

श्री शिव चालीसा इन हिंदी – संपूर्ण शिव चालीसा (शंकर भगवान की चालीसा) का पाठ हिंदी में भक्तों के लिए उपलब्ध है। शिव जी की चालीसा का पाठ महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर सभी भक्तो के लिए Shiv Chalisa Hindi Main आप सभी को समर्पित है।

If you are unable to read Lord Shiv Chalisa in English then don’t worry, read here Shiv Chalisa lyrics in Hindi. Here you will also find Shiv Chalisa in Hindi pdf. So lets Shiv Chalisa read in Hindi.

श्री शिव चालीसा पाठ – Shri Shiva Chalisa in Hindi Text

॥शिव चालीसा दोहा॥

जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल मूल सुजान।
कहत अयोध्यादास तुम, देहु अभय वरदान॥

॥श्री शिव चालीसा चौपाई॥

जय गिरिजा पति दीन दयाला। सदा करत सन्तन प्रतिपाला॥
भाल चन्द्रमा सोहत नीके। कानन कुण्डल नागफनी के॥
अंग गौर शिर गंग बहाये। मुण्डमाल तन क्षार लगाए॥
वस्त्र खाल बाघम्बर सोहे। छवि को देखि नाग मन मोहे॥
मैना मातु की हवे दुलारी। बाम अंग सोहत छवि न्यारी॥
कर त्रिशूल सोहत छवि भारी। करत सदा शत्रुन क्षयकारी॥
नन्दि गणेश सोहै तहँ कैसे। सागर मध्य कमल हैं जैसे॥
कार्तिक श्याम और गणराऊ। या छवि को कहि जात न काऊ॥
देवन जबहीं जाय पुकारा। तब ही दुख प्रभु आप निवारा॥
किया उपद्रव तारक भारी। देवन सब मिलि तुमहिं जुहारी॥
तुरत षडानन आप पठायउ। लवनिमेष महँ मारि गिरायउ॥
आप जलंधर असुर संहारा। सुयश तुम्हार विदित संसारा॥
त्रिपुरासुर सन युद्ध मचाई। सबहिं कृपा कर लीन बचाई॥
किया तपहिं भागीरथ भारी। पुरब प्रतिज्ञा तासु पुरारी॥
दानिन महँ तुम सम कोउ नाहीं। सेवक स्तुति करत सदाहीं॥
वेद माहि महिमा तुम गाई। अकथ अनादि भेद नहिं पाई॥
प्रकटी उदधि मंथन में ज्वाला। जरत सुरासुर भए विहाला॥
कीन्ही दया तहं करी सहाई। नीलकण्ठ तब नाम कहाई॥
पूजन रामचन्द्र जब कीन्हा। जीत के लंक विभीषण दीन्हा॥
सहस कमल में हो रहे धारी। कीन्ह परीक्षा तबहिं पुरारी॥
एक कमल प्रभु राखेउ जोई। कमल नयन पूजन चहं सोई॥
कठिन भक्ति देखी प्रभु शंकर। भए प्रसन्न दिए इच्छित वर॥
जय जय जय अनन्त अविनाशी। करत कृपा सब के घटवासी॥
दुष्ट सकल नित मोहि सतावै। भ्रमत रहौं मोहि चैन न आवै॥
त्राहि त्राहि मैं नाथ पुकारो। येहि अवसर मोहि आन उबारो॥
लै त्रिशूल शत्रुन को मारो। संकट ते मोहि आन उबारो॥
मात-पिता भ्राता सब होई। संकट में पूछत नहिं कोई॥
स्वामी एक है आस तुम्हारी। आय हरहु मम संकट भारी॥
धन निर्धन को देत सदा हीं। जो कोई जांचे सो फल पाहीं॥
अस्तुति केहि विधि करैं तुम्हारी। क्षमहु नाथ अब चूक हमारी॥
शंकर हो संकट के नाशन। मंगल कारण विघ्न विनाशन॥
योगी यति मुनि ध्यान लगावैं। शारद नारद शीश नवावैं॥
नमो नमो जय नमः शिवाय। सुर ब्रह्मादिक पार न पाय॥
जो यह पाठ करे मन लाई। ता पर होत है शम्भु सहाई॥
ॠनियां जो कोई हो अधिकारी। पाठ करे सो पावन हारी॥
पुत्र होन कर इच्छा जोई। निश्चय शिव प्रसाद तेहि होई॥
पण्डित त्रयोदशी को लावे। ध्यान पूर्वक होम करावे॥
त्रयोदशी व्रत करै हमेशा। ताके तन नहीं रहै कलेशा॥
धूप दीप नैवेद्य चढ़ावे। शंकर सम्मुख पाठ सुनावे॥
जन्म जन्म के पाप नसावे। अन्त धाम शिवपुर में पावे॥
कहैं अयोध्यादास आस तुम्हारी। जानि सकल दुःख हरहु हमारी॥

॥दोहा॥

नित्त नेम उठि प्रातः ही, पाठ करो चालीसा।
तुम मेरी मनोकामना, पूर्ण करो जगदीश॥
मगसिर छठि हेमन्त ॠतु, संवत चौसठ जान।
स्तुति चालीसा शिवहि, पूर्ण कीन कल्याण॥

शिव शंकर जी की चालीसा का पाठ कब करें?

वैसे तो शिव चालीसा के अंतिम दोहे “नित्त नेम उठि प्रातः ही, पाठ करो चालीसा” से स्पष्ट होता है कि, भगवान शिव शंकर की चालीसा प्रातःकाल नित्य करने से मनोकामना पूर्ण होती है। फिर भी यदि नित्य Shiv Chalisa Path नहीं कर सकते, तो कुछ विशेष दिनों में भगवान शिव की स्तुति के लिए Shiv Chalisa in Hindi Written का पाठ अवश्य करना चाहिए।

निम्न अवसरों पर शिव चालीसा हिंदी में (Shri Shiv Chalisa in Hindi) अवश्य पढ़े:

सोमवार  सोमवार चालीसा के लिए बहुत उत्तम दिन होता है।  इस दिन शिव चालीसा करने से भगवान भोलेनाथ प्रसन्न होते है।
श्रावण मास  सावन के सम्पूर्ण महीने में शिव भक्त, शंकर भगवान का चालीसा का पाठ करते है और शिवजी का आशीर्वाद प्राप्त करते है।
सावन सोमवार  यदि आप सावन के पुरे महीने में श्री शिव चालीसा पाठ नहीं कर सकते तो सावन के सोमवार पर अवश्य Chalisa पाठ करे।
महाशिवरात्रि  महाशिवरात्रि भगवान शंकर को अति प्रिय है इस दिन शिव चालीसा – महाशिवरात्रि चालीसा का पाठ अवश्य करें।

Youtube Video of Shiv Chalisa with Hindi Lyrics By Ashwani Amarnath

T-Series Bhakti Sagar के यूट्यूब चैनल पर उपलब्ध शिव चालीसा वीडियो का (संपूर्ण शिव चालीसा हिन्दी लिरिक्स के साथ) आनंद लीजिये और शिव चालीसा mp3 के रूप में डाउनलोड करने की व्यवस्था जल्द ही की जाएगी।

यहाँ हमारी साइट के माध्यम से जो लोग अंग्रेजी में भगवान शिव जी की चालीसा नहीं सकते है, उनके लिए यहां शिव चालीसा गीत हिंदी में उपलब्ध करवाने का एक छोटा सा प्रयास किया गया है। आगामी पोस्ट में हम Shiv Chalisa meaning in Hindi का वर्णन करने प्रयास करेंगे।

  • आप सभी पाठकों से आशा है की महा शिवरात्रि के शुभ अवसर पर आप सभी शिव भक्तों तक हमारी यह पोस्ट पहुंचने में मदद करेंगे।
नमस्कार, मेरा नाम गणेश कुमार हैं। संघ परिवार को निकट से देखने के पश्चात् इसके बारे में लिखने के लिए प्रयास कर रहा हूँ। मेरे लेखन में कुछ त्रुटियां संभव हैं। उन्हें सुधारने हेतु आपके सुझाव बहुत उपयोगी होंगे। संम्पर्क करें - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top