rss sangh holi geet

rss sangh holi geet
थे खेलों लाल गुलाल, होली नित आवे।
थे चलो प्रेम री चाल, होली नित आवे।
कीचड़ माटी थे न उड़ाओं, भेदभाव ने दूर भगाओं।
बणो देश रा लाल, होली नित आवे ।।1।। थे खेलों लाल गुलाल…

प्रेम ज्ञान री भर पिचकारी, होली होली खेलो देश पुजारी।
हो जावैं देश निहाल, होली नित आवे ।।2।। थे खेलों लाल गुलाल….

चन्द्रगुप्त बांको मतवालो, कर्या सिकन्दर को मुंह कालो।
एहड़ी चालो चाल, होली नित आवे ।।3।। थे खेलों लाल गुलाल….

होली खेली लक्ष्मी बाई, गोरा ने बा खड़ग दिखाई।
उठो जवानों आज, होली नित आवे।।4।। थे खेलों लाल गुलाल….

देश पे देणी है कुर्बानी, भगत सिंह का बन अनुगामी।
तरूण, वृद्ध और बाल, होली नित आवे।।5।। थे खेलों लाल गुलाल…

गांव नगर में शाखा लगाओ, सोई हिन्दू शक्ति जगाओं।
अब जननी करे पुकार, होली नित आवे।।6।। थे खेलों लाल गुलाल…

holi song ले पीली लाल गुलाल

Holi song | Holi geet | Holi Rss Geet | Holi Rss Song | Holi Rss Sangh Geet

ले पीली लाल गुलाल सभी आ जाना। होली का रंग जमाना।
कश्मीर प्रान्त से रामेश्वर तक के, सब बन्धु आ जाओ।
बर्मा से सिंधु घाटी तक, सब एक रंग में रंग जाओ।
सदियों से खोई मस्ती को फिर लाना। होली का रंग जमाना…
गंगा यमुना के फव्वारें, लो प्रेम रंग बरसाते हैं।
विन्ध्याचल सतपुड़ा, पर्वत सुन्दर उपवन दर्शाते हैं।
सरसों के पीले खेतों में रम जाना। होली का रंग जमाना…
राणा की होली की टोली, अकबर की नींव करी पोली।
शिवराज मराठो की गोली, औरंग के सीने में बोली।
दुष्टों का जग से बिल्कुल नाम मिटाना होली का रंग जमाना……….
केशव ने शंखनाद करके, हिन्दुओं का संघ चलाया है।
शाखा में आओ भाई सब, संगठन का पाठ पढ़ाया है।
भारत माता की सेवा में लग जाना। होली का रंग जमाना…

holi geet

ये शहीदों की जयहिन्द बोली, ऐसी वैसी ये बोली नहीं है
इनके माथें पे खून का टीका, देखो देखो ये रोली नहीं है ||ध्रु ||
सर कटाऊँ जवानों को लेकर, चल पड़े वह हमीरा के आगे
हम है संतान राणा शिवा की, कायरों की ये टोली नहीं है।।1।।
चल दिया जब जवाँ हँसते-हँसते, माँ की ममता तड़प् करके बोली,
आओ सो जाओ लाल मेरी गोद में, अब तेरे पास गोली नहीं है।।2।।
अब विदा जाने वाले शहीदों, खून की सुर्ख पगड़ी पहनकर,
खून की आज बौछार देखी, आज रंगों की होली नहीं है ।।3।।
संघ पर आंख दिखाने वाले, भस्म हो जायेंगे सारे दुश्मन,
ये भला है कि अब तक हमने, तीसरी आँख खोली नहीं हैं।।